Auraiya : राजस्थान से चले थे मजदूर, चाय पीने रुके और बस..... चले गए!

3k views | 6 months ago

लॉकडाउन की सबसे ज्यादा मार किसी पर पड़ी है तो वो है मजदूर वर्ग, जो बेहद मजबूर है। ना रोटी का सहारा ना रहने का ठिकाना, हिम्मत जुटा कर हज़ारों मील दूर अपने घर के लिए निकल रहे हैं तो मौत है जो उनका पीछा नहीं छोड़ रही, पहले औरंगाबाद और अब औरैया में मजदूरों के साथ ये भयावह हादसा ये सोचने पर विवश कर देता है कि काश! ये मजदूर इतने मजबूर नहीं होते।