Prabhasakshi Special | MRI | Jallikattu के बारे में वो सबकुछ जो आप जानना चाहते हैं | Tamilnadu

1.1k view | 1 month ago

जलीकट्टू तमिलनाडू का परंपरागत खेल है। इसका इतिहास 400 साल पुराना बताया जाता है। तमिलनाडु में मकर संक्रांति के पर्व को पोंगल के नाम से मनाया जाता है। इस अवसर पर जलीकट्टू के अलावा बैल दौड़ का भी कई जगहों पर आयोजन किया जाता है| जलीकट्टू तमिल शब्द सल्ली और कट्टू से मिलकर बना है। जिसका मतलब होता है सोना और चांदी के सिक्के। ये सिक्के सांड की सिंग पर बंधे होते हैं। बाद में सल्ली की जगह जल्ली शब्द ने ले ली। आंकड़ों के अनुसार 2010 से 2014 के बीच जलीकट्टू खेलते हुए 17 लोगों की जान चली गई और एक हजार से अधिक लोग घायल हुए। पिछले 20 सालों में जलीकट्टू की वजह से मरने वालों की संख्या 200 से भी ज्यादा थी।