Gorakhpur में मुक्तिपथ वाले बाबा के नाम से मशहूर पूर्व मंत्री राजेश त्रिपाठी से खास बातचीत

1.1k view | 1 month ago

गोरखपुर जनपद के चिल्लू पार से पूर्व विधायक तथा पूर्व राज्य मंत्री राजेश त्रिपाठी ने खास बातचीत की प्रभासाक्षी न्यूज़ नेटवर्क की टीम से। उन्होंने बताया कि कैसे उनके द्वारा चलाई गई दक्षिणांचल मांगे कोविड अस्पताल की मुहिम रंग लाई और अंततोगत्वा राजकीय होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज बड़हलगंज में 100 बेड का कोविड अस्पताल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दिशा-निर्देश में बनाए जाने का आदेश दिया गया। उन्होंने कहा कि जो भी संक्रमित मरीज 60 किलोमीटर की दूरी तय करके गोरखपुर पहुंचते थे और इलाज के अभाव में उनकी मृत्यु हो जाती थी वह अब बचे रहेंगे और उनका इलाज बड़हलगंज में हो पाएगा। गोरखपुर जनपद के बड़हलगंज में पिछले दिनों से दक्षिणांचल मांगे कोविड अस्पताल के नाम से सोशल नेटवर्किंग साइट पर एक अभियान चलाया गया, जिसकी अगुवाई पूर्व राज्य मंत्री राजेश त्रिपाठी ने की। उन्होंने कहा कि इस मुहिम से मुख्य तौर पर जुड़े युवा हैं जो इस मुहिम को अमली जामा पहनाने में सफल हुए। उन्होंने कहा कि मेरे द्वारा मुक्ति पथ निर्माण करने के बाद से मेरा नाम मुक्तिपथ वाले बाबा पड़ गया।